Madhya Pradesh

एमपी की सियासत में ज्योतिरादित्य सिंधिया की पत्नी के बाद, साधना सिंह की एंट्री की चर्चा

विदिशा लोकसभा सीट एकलौती ऐसी सीट है, जिसे बीजेपी नेता एक-दूसरे को गिफ्ट करते रहे है।

भोपालIN// ज्योतिरादित्य सिंधिया की पत्नी प्रियदर्शिनी राजे सिंधिया के बाद अब पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान की पत्नी साधना सिंह की सियासी एंट्री की चर्चा है। स्थानीय कार्यकर्ता विदिशा लोकसभा सीट से साधना सिंह की दावेदारी की मांग उठा रहे हैं. इस सीट से फिलहाल सुषमा स्वराज सांसद हैं और स्वास्थ्य कारणों से वो अब चुनाव ना लड़ने का एलान कर चुकी हैं. लेकिन विदिशा सीट से टिकट का फैसला सुषमा स्वराज को ही करना है।

विदिशा लोकसभा सीट एकलौती ऐसी सीट है, जिसे बीजेपी के नेताओं ने एक-दूसरे को गिफ्ट की है. ये सीट पूर्व प्रधानामंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी ने शिवराज सिंह चौहान को सौंपी थी. सीएम बनने के बाद शिवराज ने इस सीट को सुषमा स्वराज को गिफ्ट में दिया था. अब सुषमा स्वराज ने चुनाव नहीं लड़ने का फैसला लिया है, तो ऐसे में शिवराज सिंह चौहान की पत्नी साधना सिंह इस सीट से चुनाव लड़ सकती हैं।

यूं तो शिवराज सिंह चौहान ग्राम जैत विधानसभा बुधनी जिला सीहोर के मूल निवासी हैं परंतु कहते हैं कि उनकी पत्नी साधना सिंह को विदिशा पसंद है.लोकसभा चुनाव जीतने के बाद शिवराज सिंह ने यहीं पर अपनी सारी संपत्ति खड़ी की है. यहां उनका बड़ा सा फार्म हाउस है. बेटे की दूध डेयरी भी यहीं हैं.कई लोगों की नजर इस सीट पर है.लेकिन सबसे प्रबल दावेदारी शिवराज और उनकी पत्नी साधना सिंह की है।

विधानसभा चुनाव हारने के बाद शिवराज खुद को कॉमन मैन बता चुके हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि उनकी पत्नी साधना सिंह को विदिशा सीट से मौका दिया जा सकता है। सोशल मीडिया पर भी साधना सिंह के समर्थन में अभियान चल रहा है। साधना सिंह किरार समाज की राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं और इलाके में ख़ासी लोकप्रिय हैं. वो शिवराज के साथ इलाके में लगातार सक्रिय रही हैं।

वही सूत्रों के अनुसार इस बार ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर से चुनाव लड़ने का मन बना रहे हैं. शायद यही वजह है कि कांग्रेसी चाहते हैं कि ज्योतिरादित्य की जगह उनकी पत्नी प्रियदर्शनी राजे लें. जिसके लिए पिछले कई दिन से इस बारे में सुगबुगाहट सी चल रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close