CrimeMadhya Pradesh

होशंगाबाद – एमबीबीएस डॉक्टर ने अपने ड्राइवर के टुकड़े टुकड़े कर एसिड में डाला

होशंगाबाद अपने ड्राइवर की पत्नी से अवेध सम्बन्ध  छुपने के लिए सरकारी अस्पताल के  मेडिकल ऑफिसर एमबीबीएस डॉ सुनील मंत्री ने अपने ड्राइवर का बेहरहमी से कत्ल कर दिया । ड्राइवर की लाश के आरी से दो दर्जन से अधिक छोटे छोटे टुकड़े कर एसिड से भरे ड्रम में दाल दिए। हत्यारा डॉ मंत्री ने मृतक ड्राइवर वीरू पचोरी को पहले  बेहोशी का इंजेक्शन देकर बेहोश किया। उसके बाद उसका गला कटा और फिर लकड़ी काटने वाली आरी से बीरू के शव के टुकड़े टुकड़े कर दिए। डॉ मंत्री सोमबार शाम से मंगलवार दोपहर तक शव के टुकड़े करता रहा। हत्यारे डॉ सुनील मंत्री का बाजार से एसिड की बोतलों की पेटिया खरीदना और रात भर उसकी संदिग्ध गतिविधियों की भनक पुलिस के मुखविरो के जरिये मिल गई। सोमबार दोपहर को पुलिस हत्यारे डॉ मंत्री के घर धमक गई और डॉ मंत्री शव के टुकड़े करते हुए रंगे हाथो पकड़ा गया। दरअसल वीरू को डॉ सुनील मंत्री का उसकी पत्नी से अवेध सम्बन्ध होने का शक था। इसलिए वह डॉ सुनील मंत्री को कई बार धमका चुका था।

डॉ सुनील मंत्री से वीरू पचोरी को रस्ते हटाने के लिए पूरी योजना वनाई थी। वह रविवार से शहर की विभिन्न हार्डवेयर की दुकानों से भरी मात्रा में एसिड खरीद कर लाया था। एसिड को एक ड्रम में इकठ्ठा कर उसमे वीरू के लाश के टुकड़े उसमे गला रहा था।  पुलिस के मुताविक डॉ सुनील मंत्री की पत्नी घर में बुटीक का काम करती थी। उसके साथ 2008 से मृतक बीरू पचोरी की पत्नी काम करती थी। दो साल पहले डॉ सुनील मंत्री की पत्नी की मौत हो गई। उसके बाद वीरू पचोरी की पत्नी डॉ सुनील मंत्री के घर ही बुटीक का काम करने लगी। कई दिनों से वीरू को उसकी पत्नी के डॉ सुनील मंत्री से अवेध सम्बन्ध होने का शक था। इस बात को लेकर उसने डॉ सुनील मंत्री को कई बार धमकाया। सोमबार को डॉ सुनील मंत्री ने वीरू को कहा की आप।मेरे ड्राइवर वन जाओ हमेशा मेरे साथ रहो आपको पता लगेगा की मेरा आपकी पत्नी से कोई सम्बन्ध नहीं है। वीरू ने सोमबार को ही डॉ के कार चलना शुरू किया। उसके बाद डॉ सुनील मंत्री को लेकर इटारसी सरकारी अस्पताल गया। वहा वीरू ने डॉ मंत्री को बताया की उसके दांत में दर्द है। डॉ मंत्री ने उसे अस्पताल से दवाए दिलाई और शाम को घर आ गए। उसके बाद वीरू ने फिर दांत दर्द की शिकायत की तो डॉ सुनील मंत्री ने ड्राइवर वीरू को धोके से  वेहोशी का इंजेक्शन लगाकर उसकी ह्त्या कर दी।  डॉ सुनील मंत्री ने वीरू की ह्त्या अपने घर के नीचे कमरे में की उसके बाद उसके शव को घसीट कर घर की दूसरी मंजिल पर लव गया । वंहा बाथरूम में शव के आरी से टुकड़े टुकड़े कर दिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close